Category: PHYSICS LESSON 01 विधुत आवेश तथा क्षेत्र

66
Created on

01 विधुत आवेश तथा क्षेत्र

1 / 63

स्थिर विधुतीय क्षेत्र होता है

2 / 63

स्थिर विधुतीय क्षेत्र होता है

3 / 63

एक विधुतीय द्विध्रुव दो विपरीत आवेशों से बना है जिनके परिणाम +3.2 x 10-19 C एवं -3.2 x 10-19C हैं और उनके बीच की दूरी 2.5 x 10-10 m है। विधुतीय द्विध्रुव का आघूर्ण है

4 / 63

विद्युत आवेश का क्वांटम e.s.u.मात्रक में होता है

5 / 63

दो वैद्युत क्षेत्र रेखाएँ एक-दूसरे को किस कोण पर काटती हैं ?

6 / 63

आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र आघूर्ण वाला द्विध्रुव अधिकतम बल आघूर्ण तब अनुभव करेगा घूर्ण वाला द्विध्रुव अधिकतम बल आघूर्ण तब अनुभव करेगा तथा आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र के साथ के बीच कोण हो –

7 / 63

आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र के साथ के साथ 90° का कोण बनाता है, तब इस पर लगा बल आघूर्ण

8 / 63

एक विद्युत द्विध्रुव के अक्ष पर r दूरी पर विद्युत क्षेत्र की तीव्रता E1 तथा लम्ब-अर्द्धक रेखा पर r दूरी पर तीव्रता E2 है। E1 एवं E2 के बीच का कोण 0 है। E1 : E2 एवं 0 होंगे।

9 / 63

एक लंबे समरूप आविष्ट सीधे तार से दूरी ‘r’ पर विद्युत क्षेत्र की तीव्रता E1 एवं दूरी 2r पर विद्युत क्षेत्र की तीव्रता E2 है। E1 एवं E2 का अनुपात होगा :

10 / 63

किसी वस्तु पर आवेश की न्यूनतम मात्रा कम नहीं हो सकती है

11 / 63

जब किसी वस्तु को आवेशित किया जाता है, तो उसका द्रव्यमान –

12 / 63

चालक पदार्थ से बने असीमित आवेशित पतली चादर की सतह के निकट स्थित किसी बिन्दु पर विद्युतीय क्षेत्र का मान होता है –

13 / 63

किसी अचालक पदार्थ के गोले को आवेश देने पर वह वितरित होता है –

14 / 63

किसी आवेशित चालक के नजदीक विद्युत् तीव्रता आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय का मान होता है –

15 / 63

किसी घिरे सतह पर कुल विद्युत् फ्लक्स पृष्ठ के भीतर स्थिर कुल आवेश का –

16 / 63

दि किसी अल्प क्षेत्र dA पर विद्युतीय तीव्रताआघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीयअभिलम्ब हो, तब उस क्षेत्र पर ट विद्युत् फ्लक्स होगा –

17 / 63

एक समान विद्युत् क्षेत्र में द्विध्रुव पर आरोपित बल युग्म आघूर्ण अधिकतम है जबकि द्विध्रुव की अक्ष तथा क्षेत्र की दिशा के बीच का कोण है –

18 / 63

तीन बिन्दुओं 4g, Q तथा q एक सरल रेखा पर क्रमशः 0, 1/2 तथा 1 दूरी पर रखे हैं। यदि आवेश q पर परिणामी बल शून्य है तो Q का मान होगा –

19 / 63

पाँच विद्युतीय द्विध्रुव, जो प्रत्येक±qआवेश से बना है। दूरी से पृथक् है, घिरे पृष्ठ में रखा जाता है। पृष्ठ के ऊपर कुल फ्लक्स होगा –

20 / 63

साबुन के एक बुलबुले को जब आवेशित किया जाता है तो उसकी त्रिज्या –

21 / 63

विद्युत्-विभव का मात्रक वोल्ट है और यह तुल्य है –

22 / 63

निम्नलिखित में कौन सदिश राशि है ?

23 / 63

एक प्रोटॉन एवं इलेक्ट्रॉन को समान विद्युत्-क्षेत्र में रखा जाता है –

24 / 63

दो आवेशों के बीच की दूरी दुगुनी करने के बीच का बल –

25 / 63

स्थिर विद्युत् आवेशों के बीच लगता बल किस नियम से दिया जाता है ?

26 / 63

आवेश की विमा है –

27 / 63

आवेश का S.I. मात्रक होता है

28 / 63

एक बिन्दु आवेश (q) को एक-दूसरे बिन्दु आवेश Q के चारों तरफ वृत्ताकार पथ पर घुमाया जाता है। विद्युत क्षेत्र के द्वारा किया गया कार्य होगा –

29 / 63

दो चालकों के बीच आवेश के वितरण से होने वाली ऊर्जा की हानि निर्भर करती है –

30 / 63

एक अनावेशित धातुकण को एक धनावेशित धातु प्लेट के नजदीक लाया जाता है। धातु कण पर विद्युतीय बल होगा –

31 / 63

आवेश A एवं B एक-दूसरे को आकर्षित करते हैं। आवेश B एवं C भी एक-दूसरे को आकर्षित करते हैं। तब A एवं C-

32 / 63

फ्लक्स घनत्व का मात्रक होता है –

33 / 63

किसी आवेशित गोलीय खोखले चालक के भीतर विद्युत तीव्रता होती है –

34 / 63

यदि दो आवेशों की दूरी बढ़ा दी जाये तो आवेशों के विद्युतीय स्थितिज उर्जा का मान –

35 / 63

किसी आवेश से अनंत दूरी पर उस आवेश के कारण विद्युत क्षेत्र की तीव्रता होती है –

36 / 63

एक वैद्युत द्विध्रुव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल विद्युत फ्लक्स होगा –

37 / 63

किसी अनावेशित वस्तु पर एक कूलम्ब आवेश होने के लिए उसमें से निकाले गये इलेक्ट्रॉनों की संख्या होगी

38 / 63

किसी वस्तु पर 1 कूलम्ब आवेश तब संभव है जब उससे निकाले गए इलेक्ट्रॉनों की संख्या होगी –

39 / 63

एक विद्युत् द्वि-ध्रुव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल फ्लक्स होगा –

40 / 63

आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्रआघूर्ण वाला एक विद्युत द्विध्रुव आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय तीव्रता वाले विद्युतीय क्षेत्र में रखा जाए, तो उस पर लगने वाला टार्क होगा

41 / 63

कूलम्ब बल है –

42 / 63

वायु में एक-दूसरे से 30 cm की दूरी पर स्थित दो आवेशित कणों के आवेश क्रमश: 2 x 10-7 C तथा 3 x 10-7 C हैं। इनके बीच लगते बल का परिणाम है –

43 / 63

किसी आवेशित खोखले गोलाकार चालक के भीतर विद्युतीय तीव्रता का मान होता है –

44 / 63

एक आवेशित चालक का क्षेत्र आवेश घनत्व σ है। इसके पास विद्युत क्षेत्र का मान होता है

45 / 63

1 स्टैट कूलाम =………. कूलाम।

46 / 63

विद्युतीय क्षेत्र का विमीय सूत्र है

47 / 63

किसी वस्तु पर आवेश का कारण है।

48 / 63

जब कोई वस्तु ऋणावेशित हो जाती है तो इसका द्रव्यमान क्या होता है।

49 / 63

किसी वस्तु पर आवेश की न्यूनतम मात्रा कम नहीं हो सकती।

50 / 63

X-अक्ष पर x = 0 पर q तथा x = a पर 2q आवेश रखे हैं। आवेश q से N1 तथा आवेश 2q से N2 क्षेत्र रेखाएँ निकलती हैं। तब आवेश रखे हैं। आवेश होगी –

51 / 63

X-अक्ष पर x = 0 पर q तथा x = a पर 2q आवेश रखे हैं। E का मान शून्य होगा –

52 / 63

एक विद्युत क्षेत्र में एक द्विध्रुव का आघूर्ण आघूर्ण वाला एक विद्युतीय द्विध्रुव विद्युतीय क्षेत्र = pÎ है। इस पर लगता बल आघूर्ण होगा –

53 / 63

एक विद्युत क्षेत्र में एक द्विध्रुव को X-अक्ष के समानान्तर रखा जाता है। द्विध्रुव पर बल

54 / 63

एक पिण्ड पर आवेश लिखा जाता है Q = ne, जहाँ e = 1.6 x 10-19 C जहाँ n के मान हैं

55 / 63

दो आवेशों q1 और q2 के कारण विद्युत क्षेत्र रेखा पर आवेशों का बाहरी चिन्ह क्या है ?

56 / 63

यदि गोले पर आवेश 10μC हो, तो उसकी सतह पर विद्युतीय फ्लक्स है

57 / 63

1 कूलॉम आवेश बराबर होता है –

58 / 63

एक आवेशित चालक की सतह के किसी बिन्दु पर विद्युतीय क्षेत्र की तीव्रता

59 / 63

डिबाई मात्रक है –

60 / 63

इलेक्ट्रॉन का विशिष्ट आवेश होता है –

61 / 63

एक ही पदार्थ के धातु के दो गोले A तथा B दिये गये हैं। एक पर +Q आवेश तथा दूसरे पर -Q आवेश दिया गया है

62 / 63

एक वैद्युत द्विध्रुव को वैद्युत क्षेत्र में रखा जाता है जो y-अक्ष पर दिष्ट है, x-अक्ष की ओर जाने पर बदलता है पर y एवं z-अक्ष की ओर अचर रहता है। यदि द्विध्रुव x-अक्ष पर स्थित हो तो कुल बल –

63 / 63

मूलबिन्दु पर एक धन बिन्दु आवेश Q स्थित है जबकि x = 2cm पर एक बिन्दु धन आवेश 2Q स्थित है –

Your score is

The average score is 46%

0%